phone+91 8882 540 540

सुनेला

क्‍यों पहनें सुनेला:

वैदिक ज्‍योतिष के अनुसार सुनेला रत्‍न गुरू से संबंधित है और यह धनु (सेजिटेरियन्‍स) और मीन (पाइसियन्‍स) पर अधिकार रखता है। पश्चिमी ज्‍योतिष के अनुसार यह धनु राशि वालों का बर्ड स्‍टोन है। यह पुखराज का उपरत्‍न है। इसलिए इसे पहनने से गुरू से संबंधित बेहतर लाभ मिलते हैं मान-सम्‍मान की प्राप्‍ति होती है, निर्णय लेने की क्षमता का विकास होता है और सामाजि‍क कार्यों में रूचि बढ़ती है।

पहनने से लाभ:

गुरू का यह उपरत्‍न धारण करने से गुरू ग्रह से संबंधित सभी लाभ प्राप्‍त होते हैं। यह धन और सम्‍मान में वृद्ध‍ि में सहायक होता है। इसका अर्थ है कि सुनेला पहनने से आर्थिक लाभ होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

सुनेला धारण करने वाला व्‍यक्‍ति मानसिक रूप से स्‍वस्‍थ्‍य और दृढ़ बनता है साथ ही शिक्षा, न्‍याय और पढ़ाई-लिखाई के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करता है। ऐसा कहा जाता है कि उच्‍च शिक्षा के लिए जा रहे विद्यार्थियों को सुनेला धारण करना चाहिए। यह लिवर और शुगर को कंट्रोल में रखने में भी सहायक होता है।

कीमत

भारतीय बाजार में सुनेला की कीमत 125 से 400 रू. प्रति कैरेट है। रंग, चमक और स्‍पष्‍टता के आधार पर इसकी कीमतें बढ़ती जाती हैं। ज्‍योतिष रेमि‍डी के लिए खरीदते समय बेहतर चमक वाला सुनेला खरीदना चाहिए जिसकी कीमत 300 से 400 रू. प्रति कैरेट होती है।

खरीदने के दौरान ध्‍यान देने योग्‍य बातें:

सुनेला जामुनिया को तेज आग में जला कर भी प्राप्‍त होता है लेकिन ज्‍योतिष विज्ञान में ऐसे रत्‍न का कोई महत्‍व नहीं होता जिसे आग और रसायन से ट्रीट करके तैयार किया जाता है।

किसी भी रत्‍न को खरीदने से पहले उसकी शुद्धता की जांच अवश्‍य कर लेनी चाहिए। रत्‍नों को अपने जानने वाले डीलर से लें या फिर पहले उनके काम को अच्‍छी तरह से जांच ले फिर वहां से रत्‍नों की खरीदारी करें। रत्‍नों को अगर ज्‍योतिषीय रेमिडी के लिए पहनना हो तो रत्‍न सस्‍ता हो या महंगा उसकी शुद्धता के विषय में किसी अच्‍छी लैब का सर्टिफिकेट अवश्‍य देंखे और खुद भी इंटरनेट के माध्‍यम से और विशेषज्ञों से इसके विषय में जानकारी ले लें।

गुणवत्‍ता:

अच्‍छा सुनेला शेप, रंग और स्‍पष्‍टता से पहचाना जाता है। ज्‍योतिष रेमिडी के लिए पहनने के लिए बेहतर रत्‍न वो होता है जो चमकदार हो और उसमें किसी भी प्रकार से कोई खरोट या टूट-फूट (खंडित) न हो। बेहतर क्‍वालिटी वाला रत्‍न उसके रंग की एक रूपता से पहचाना जाता है। यह रत्‍न गहरे पीले से भूरे रंग की ओर जाते हुए कई शेड होते हैं।

कहां से प्राप्‍त करें:

सुनेला खरीदते समय सावधान रहना चाहिए क्‍योंकि जामुनिया को आग पर जला कर तैयार सुनेला जैसा पत्‍थर रत्‍न के रूप में बाजार में उपलब्‍ध है। अमेरिका, ब्राजील और साउथ अफ्रीका इसके बड़े उत्‍पादक है। रत्‍नों और जेम स्‍टोन के बढ़ते चलन के कारण हर ज्‍वेलर के पास यह रत्‍न मिल जाएगा लेकिन यह जरूरी नहीं हो कि वह प्राकृतिक हो क्‍योंकि लगभग सभी जेमस्‍टोन के सेन्‍थेटिक रूप तैयार किए जा सके हैं।

इसके अलावा ऑन लाइन भी इस रत्‍न को या उससे बनी अंगूठी, ब्रसलेट आदि को खरीदा जा सकता है। यहां इस बात का ध्‍यान रखें कि रत्‍न से संबंधित सर्टिफिकेट अवश्‍य देख लें।

क्‍यों Joyrica।

Joyrica अच्‍छे, प्राकृतिक और सिद्ध रत्‍न उन लोगों को पहुंचाने के उद्देश्‍य से ही काम कर रही है जिसे उनकी जरूरत है। हमारी पहली प्राथमिकता है कि जिसको रत्‍नों की जरूरत है उसको उसकी आवश्‍यक्‍ता और क्षमता के अनुसार बेहतर रत्‍न उपलब्‍ध कराया जाए। हम अच्‍छे, सर्टिफाइड और सस्‍ते रत्‍न लोगों तक पहुंचाते हैं जिससे सभी रत्‍नों के जादुई असर से अपना जीवन संवार सके।